रूस-यूक्रेन जंग अपडेट्स:यूक्रेन ने रूस को खार्किव से खदेड़ा, अमेरिकी सांसदों ने कीव में जेलेंस्की से मुलाकात की

1 week ago
Russia Ukraine War Situation Updates; Vladimir Putin Volodymyr Zelenskyy | G7 Leaders Statement

कीव/मॉस्को9 मिनट पहले

कॉपी लिंक

रूस-यूक्रेन जंग को 80 दिन बीत चुके हैं। यूक्रेन के कई शहरों पर रूसी हमले अभी भी जारी हैं। इस बीच यूक्रेन की सेना ने अपने दूसरे सबसे बड़े शहर, खार्किव से रूसी सैनिकों को खदेड़ दिया है। खार्किव के मेयर इहोर तेरखोव ने बताया कि खार्किव की टेरिटोरियल आर्मी और यूक्रेनी आर्म्ड फोर्सेस के प्रयासों की वजह से रूसी सेना की वापसी हुई है।

वहीं, अमेरिकी सांसदों ने शनिवार को राजधानी कीव में राष्ट्रपति जेलेंस्की से मुलाकात की। जेलेंस्की ने अमेरिका से रूस को टेरेरिज्म स्पांसर करने वाले देश घोषित करने की मांग की। जेलेंस्की ने अमेरिकी सांसदों से कहा कि वह प्रतिबंधों को और मजबूत करने के लिए अमेरिका पर भरोसा करते हैं।

रूस-यूक्रेन जंग के प्रमुख अपडेट्स...

जंग की वजह से यूक्रेनी रेल नेटवर्क का 23% हिस्सा तबाह हो चुका है।मारियुपोल शहर से शनिवार को 500 से अधिक कारें जपोरिजिया के लिए रवाना हुईं।यूक्रेनी जनरल स्टाफ के मुताबिक, पूर्वी यूक्रेन के डोनेट्स्क इलाके में रूस ने हवाई हमले जारी रखे हैं। रूसी सेना डोनेट्स्क के सिविएरोडोनेट्सक, सोलेदार और बखमुट शहरों पर हमले की तैयारी कर रही है।

जेलेंस्की ने रूसी समर्थक पार्टियों पर प्रतिबंध लगाने वाले कानून पर साइन किए

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की। (फाइल फोटो)

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की। (फाइल फोटो)

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की ने शनिवार को एक कानून पर साइन किया। यह कानून उन पार्टियों पर प्रतिबंध लगाने की अनुमति देता है जो यूक्रेन के खिलाफ रूस के युद्ध का समर्थन करते हैं। इसके तहत उन पार्टियों पर भी बैन लगेगा जो इस बात से इनकार करते हैं कि मॉस्को ने क्रीमिया और पूर्वी डोनबास सहित यूक्रेनी इलाकों पर कब्जा कर लिया है।

फिनलैंड के विदेश मंत्री बोले-रूस के साथ बॉर्डर पर शांति चाहता है देश

शनिवार को बर्लिन में हुई नाटो के विदेश मंत्रियों की बैठक से पहले मीडिया से बात करते फिनलैंड के विदेश मंत्री पेक्का हाविस्टो ।

शनिवार को बर्लिन में हुई नाटो के विदेश मंत्रियों की बैठक से पहले मीडिया से बात करते फिनलैंड के विदेश मंत्री पेक्का हाविस्टो ।

फिनलैंड के विदेश मंत्री पेक्का हाविस्टो ने शनिवार को नाटो की मीटिंग में अहम बयान दिया। हाविस्टो ने कहा कि फिनलैंड रूस के साथ अपनी सीमा को शांतिपूर्ण रखना चाहता है। फिनलैंड नाटो में शामिल होने के बहुत ही करीब है।

हाविस्टो ने कहा- हम रूस के साथ 1,300 किलोमीटर लंबा बॉर्डर साझा करते हैं। उन्होंने रूस क साथ कम्युनिकेशन चैनल बनाए रखने की जरूरत पर भी जोर दिया।

जर्मनी ने फिनलैंड और स्वीडन के नाटो में शामिल होने का समर्थन किया

जर्मन विदेश मंत्री एनालेना बारबॉक। (फाइल फोटो)

जर्मन विदेश मंत्री एनालेना बारबॉक। (फाइल फोटो)

जर्मन विदेश मंत्री एनालेना बारबॉक ने शनिवार को कहा कि वह फिनलैंड और स्वीडन के नाटो में शामिल होने का समर्थन करती हैं। जर्मनी में G7 विदेश मंत्रियों की बैठक के बाद बारबॉक ने कहा- हर देश किसी भी अलायंस का मेंबर बनने के लिए स्वतंत्र है। यह स्वीडन और फिनलैंड पर भी लागू होता है।

बारबॉक ने कहा- नाटो ने स्वीडन और फिनलैंड को शामिल होने के लिए कोई प्रयास नहीं किए । रूसी हमले से फिनलैंड और स्वीडन को धक्का पहुंचा है, क्योंकि दोनों देश अपने पड़ोसियों के साथ शांति से रहना चाहते हैं।

Read Full Article at Source