कोरोना का बेहद घातक म्यूटेंट भारत में हुआ दाखिल, यूरोप में फैला चुका है दहशत

1 month ago

 कोरोना वायरस के नए स्वरूप एवाई.4.2 यानी डेल्टा प्लस को ब्रिटेन की स्वास्थ्य सेवा एजेंसी ने वीयूआई-21ओसीटी-01 नाम दिया है.

India Coronavirus News: कोरोना वायरस के नए स्वरूप एवाई.4.2 यानी डेल्टा प्लस को ब्रिटेन की स्वास्थ्य सेवा एजेंसी ने वीयूआई-21ओसीटी-01 नाम दिया है.

India Coronavirus News: कोरोना वायरस के नए स्वरूप एवाई.4.2 यानी डेल्टा प्लस को ब्रिटेन की स्वास्थ्य सेवा एजेंसी ने वीयूआई-21ओसीटी-01 नाम दिया है.

News18HindiLast Updated : October 24, 2021, 16:56 IST

मुंबई. कोरोन वायरस का एक नया उत्परिवर्तित रूप (म्यूटेंट) AY.4.2 यूरोप में दहशत पैदा करने के बाद अब भारत में भी दस्तक दे चुका है. हालांकि इसकी ‘संख्या अभी बेहद कम’ है. वायरस के इस रूप को संभवतः डेल्टा वेरिएंट से अधिक घातक माना जाता है क्योंकि यह उसकी तुलना में तेजी से फैलता है.

सार्स-सीओवी-2 में INSACOG नेटवर्क निगरानी विविधताओं के वैज्ञानिकों ने शनिवार को यह जानकारी दी. दरअसल यह माना जा रहा है कि AY.4.2 की वजह से ही यूके, रूस (अगले सप्ताह मास्को में एक लॉकडाउन शुरू होगा) और इज़राइल (पिछले सप्ताह लॉकडाउन लगाया गया) में कोविड -19 मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हुई है.

कोविड-19 के डेल्टा स्वरूप के नए प्रकार के मामलों में इजाफे ने ब्रिटेन सहित कई देशों में चिंता बढ़ा दी है. इस स्वरूप की अभी तक निगरानी की जा रही थी, लेकिन मामलों में इजाफे के बाद अब इसे जांच दायरे में स्वरूप (वीयूआई) की श्रेणी के तहत रखा गया है. वायरस के नए स्वरूप एवाई.4.2 यानी डेल्टा प्लस को ब्रिटेन की स्वास्थ्य सेवा एजेंसी ने वीयूआई-21ओसीटी-01 नाम दिया है.

ब्रिटेन के आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक, मरीजों में सबसे अधिक वायरस के डेल्टा स्वरूप की पुष्टि हुई है. वायरस का डेल्टा स्वरूप सबसे पहले भारत में चिह्नित किया गया था जिसे बाद में ब्रिटेन में चिंताजनक स्वरूप की श्रेणी में रखा गया. आंकड़ों के अनुसार, जुलाई में चिह्नित किए जाने के बाद से 20 अक्टूबर तक इंग्लैंड में डेल्टा स्वरूप के 15,120 मामले सामने आए हैं. पिछले सप्ताह में डेल्टा स्वरूप के कुल मामलों में छह फीसदी डेल्टा प्लस के पाए गए थे.

Read Full Article at Source