सात आर्थिक महाशक्तियों का शिखर सम्मेलन जी-7 और PM मोदी का महामंथन

1 month ago

प्रधानमंत्री मोदी की पिछली जर्मनी यात्रा इसी साल मई महीने में हुई थी. (फाइल फोटो)

प्रधानमंत्री मोदी की पिछली जर्मनी यात्रा इसी साल मई महीने में हुई थी. (फाइल फोटो)

PM Modi in Germany: लगभग 60 घंटों की इस जर्मनी और संयुक्त अरब अमीरात की अपनी यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ना केवल 12 से भी अधिक दुनिया के शीर्षस्थ नेताओं के साथ बैठक करेंगे, बल्कि लगभग 15 से अधिक कार्यक्रमों में शिरकत भी करेंगे.

अधिक पढ़ें ...

News18HindiLast Updated : June 25, 2022, 21:43 ISTEditor default pictureEditor default picture

नई दिल्ली. यूक्रेन-रूस युद्ध की पृष्ठभूमि में हो रहे दुनिया की सात आर्थिक महाशक्तियों के शिखर सम्मेलन जी-7 पर वैसे तो पूरी दुनिया की नज़र है, लेकिन भारत के लिए ये महासम्मेलन बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण है क्योंकि लगभग 60 घंटों की इस जर्मनी और संयुक्त अरब अमीरात की अपनी यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ना केवल 12 से भी अधिक दुनिया के शीर्षस्थ नेताओं के साथ बैठक करेंगे, बल्कि लगभग 15 से अधिक कार्यक्रमों में शिरकत भी करेंगे. इसीलिए इसे प्रधानमंत्री मोदी का महामंथन कहना अतिश्योक्ति नहीं होगी.

सम्मलेन के लिए निकलने से पूर्व प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि जी-7 सम्मेलन में शामिल होने के दौरान वो कई मुद्दों जैसे पर्यावरण, ऊर्जा, लोकतंत्र, काउंटर टेररिज्म पर अपनी बात रखेंगे. अपने स्टेटमेंट में प्रधानमंत्री ने कहा कि वो जी-7 और अतिथि देशों के कुछ नेताओं से मिलने के साथ ही जर्मनी में मौजूद भारतीय समुदाय के लोगों से भी मुलाकात करेंगे. प्रधानमंत्री मोदी म्यूनिख में भारतीय समुदाय से संबंधित जिस कार्यक्रम को संबोधित करेंगे, उसके बारे में कहा जा रहा है कि कोविड-19 महामारी फैलने के बाद से जर्मनी में इस तरह का ये सबसे बड़ा कार्यक्रम होगा. प्रधानमंत्री ने कहा कि “जी-7 सम्मलेन यात्रा के दौरान मैं यूरोप से आये भारतीय डायस्पोरा से मिलने के लिए भी उत्सुक हूं, जो ना केवल अपने-अपने देशों की अर्थव्यवस्थाओं में ज़बरदस्त योगदान दे रहे हैं, बल्कि यूरोपीय देशों के साथ भारत के संबंधों को और भी समृद्ध कर रहे हैं.”

प्रधानमंत्री मोदी की पिछली जर्मनी यात्रा इसी साल मई महीने में हुई थी और उसी दौरान जी-7 शिखर सम्मेलन के लिए निमंत्रण भारत और जर्मनी के बीच सालों पुराने मजबूत एवं करीबी साझेदारी को ध्यान में रखते हुए ही दिया गया. जी-7 समूह दुनिया के सात सबसे अमीर देशों का समूह है जिसकी अध्यक्षता अभी जर्मनी के पास है. सात आर्थिक महाशक्तियों के इस समूह में ब्रिटेन, कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान और अमेरिका शामिल हैं. यानी इस बैठक में अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन, ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन, फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रो, कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो समेत दुनिया के शीर्षस्थ राजनेता हिस्सा ले रहे हैं. जर्मनी ने भारत के अलावा अर्जेंटीना, इंडोनेशिया, सेनेगल और दक्षिण अफ्रीका को भी अतिथि के रूप में सम्मेलन में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया है.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी | आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी |

Tags: Germany, Narendra modi, Saudi arabia

FIRST PUBLISHED :

June 25, 2022, 21:39 IST

Read Full Article at Source