VIDEO: लाहौल एवं स्पीति में सीजन की पहली बर्फबारी, पर्यटक Snow Falling का जमकर ले रहे हैं लुत्फ

1 month ago

हिमाचल प्रदेश के लाहौल एवं स्पीति में सीजन की पहली बर्फबारी हुई है.

हिमाचल प्रदेश के लाहौल एवं स्पीति में सीजन की पहली बर्फबारी हुई है.

Snow Falling in Himachal: लाहौल एवं स्पीति में सीजन की पहली बर्फवारी से तापमान लुढ़क गया है. इसके साथ ही सेब बागवानों की चिंता बढ़ गई है. वीकेंड एंड होने की वजह से बड़ी संख्या में पर्यटक हिमाचल पहुंचे हुए हैं और बर्फबारी का आनंद उठा रहे हैं.

News18 Himachal PradeshLast Updated : October 24, 2021, 16:58 IST

प्रेम लाल,

लाहौल-स्पीति. लाहौल घाटी में सीजन की पहली बर्फवारी हो रही है, जिसके चलते समूचा इलाका बर्फ की सफेद चादर से ढक गया हैं. इसके साथ ही घाटी के तापमान में जबरदस्त गिरावट दर्ज की जा रही है. घाटी की ऊंची चोटियों बारालाचा ला, कुन्जंग जोत, रोहतांग दर्रे में भी जबरदस्त हिमपात हो रही है. मौसम विभाग ने 23 व 24 अक्टूबर को बर्फवारी की संभावना जताई थी, जिसके मद्देनजर जिला प्रशासन ने पहले ही यात्रा संबंधी एडवाइजरी जारी कर दी है.

जिला प्रशासन की ओर से जारी एडवाइजरी में कहा गया है कि पर्यटक और अन्य ऊंचाई वाले इलाकों की यात्रा से बचें. उन्होंने अपील करते हुए कहा कि अब तक घाटी में चार ईंच से लेकर एक फीट तक बर्फबारी हो चुकी है, साथ ही बर्फ गिरने का सिलसिला अब भी जारी है. जिला प्रशासन लाहौल से कुल्लू और कुल्लू से लाहौल आने वाली वाली चार पहिया वाहनों को आवाजाही की अनुमति जारी कर रहा है. लाहौल घाटी में घूमने आए पर्यटक बर्फबारी से काफी खुश नजर आए और वह बर्फवारी का जीभर कर आनन्द उठा रहे हैं.

Lahaul and Spiti, Season's first snowfall, Tourist, Enjoy Snow Falling, Himachal Pradesh Snowfall, Temperature drop, Snowfall News, Himachal Pradesh -लाहौल एवं स्पीति, सीजन की पहली बर्फबारी, पर्यटक, Snow Falling का लुत्फ, हिमाचल प्रदेश बर्फबारी, तापमान में गिरावट, बर्फबारी न्यूज, हिमाचल प्रदेश लेटेस्ट न्यूज

लाहौल एवं स्पीति में बर्फबारी होने से ऐसा लग रहा है, मानो सफेद चादर बिछ गई हो.

कुल्लू की ओर जाने वाली बसें स्थगित

हिमाचल पथ परिवहन निगम केलांग डिपू प्रबंधन ने फिलहाल केलांग कुल्लू की ओर जाने वाली तमाम बसों को स्थगित कर दिया है. हालांकि केलांग उदयपुर बस सेवा को जारी रखा गया है. घाटी के किसान खेताबाडी से लगभग फारिंग हो चुके है.

सेब बागवानों की बढ़ी चिंता

बर्फबारी से सेब बागवानों की चिंता कहीं न कहीं बढ़ा दी है. घाटी के ज्यादातर बागवानों के सेब अभी भी बगीचे में हैं, कुछ बागवानों के सेब मंडियों की ओर ले जाने के लिए तैयार हैं, जबकि कुछ बागवानों के सेब को पेडों में ही हैं. ऐसे में इस बेमौसमी हिमपात के कारण सेब के पेड़ों नुकसान पहुंचने की भी संभावना बढ़ गई है. वहीं मंडी संसदीय उपचुनाव के प्रचार में भी राजनैतिक दल व चुनावी प्रक्रिया में जुटे सरकारी कर्मचारियों की भी परेशानी बढा दी है.

Read Full Article at Source